Follow us

18/06/2024 2:46 pm

Search
Close this search box.
Home » News in Hindi » पंजाब » Chandigarh Mayor election: चंडीगढ़ युवा कांग्रेस CYC अध्यक्ष मनोज लुबाना के नेतृत्व में गेट समीप “बुद्धि शुद्धि महायज्ञ”

Chandigarh Mayor election: चंडीगढ़ युवा कांग्रेस  CYC अध्यक्ष मनोज लुबाना के नेतृत्व में  गेट समीप “बुद्धि शुद्धि महायज्ञ”

चंडीगढ़ युवा कांग्रेस ने CYC अध्यक्ष मनोज लुबाना के नेतृत्व में “बुद्धि शुद्धि महायज्ञ” का आयोजन किया। मनोज ने कहा प्रदर्शन के पीछे का विचार यह जैसा कि इसके नाम से स्पष्ट है, ईश्वर से चंडीगढ़ प्रशासन, निर्वाचित एमसी और निर्वाचित सांसद किरण खेर को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना करना है।

चंडीगढ़ एमसी कार्यालय के बाहर हवन का आयोजन किया गया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि चंडीगढ़ कभी सिटी ब्यूटीफुल था, लेकिन अब यह सिर्फ नाम के लिए रह गया है। प्रदर्शनकारियों ने निगम के मेयर चुनाव के तरीके पर भी नाराजगी व्यक्त की।

चंडीगढ़ युवा कांग्रेस के अध्यक्ष मनोज लुबाना ने कहा, “एक समय था जब चंडीगढ़ को न केवल इसकी सुंदरता के लिए बल्कि इसके प्रशासन के लिए भी एक मिसाल के रूप में देखा जाता था। वर्तमान प्रशासन सिटी ब्यूटीफुल का विनाश कर रही है। चंडीगढ़ निगम मेयर चुनाव में लोकतंत्र की हत्या के लिए पूरा प्रशासन जिम्मेदार है। हमने प्रशासन की सद्बुद्धि के लिए इस हवन का आयोजन किया है।”

चंडीगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष एचएस लकी ने कहा, “प्रशासन सामूहिक रूप से लोकतंत्र की हत्या करने और हमारे देश की पवित्र चुनावी प्रक्रिया के साथ खिलवाड़ करने के लिए जिम्मेदार है। हम प्रार्थना करते हैं, भगवान उन्हे आशीर्वाद दें और उन्हें नैतिकता और विनम्रता प्रदान करें।”

पार्षद तरुणा मेहता ने कहा, “जब से भाजपा नगर निगम में काबिज हुई है, कांग्रेस के राज में देश में नंबर एक पर रहने वाला चंडीगढ़ पहले दस सुंदर शहरों में भी नही रहा है, भाजपा के राज में नगर निगम में आए दिन घोटाले उजागर होते आ रहे है, सदबुद्धि मिलने से भाजपा के नेता कहीं ना कहीं आत्म मंथन जरूर करेंगे।”

पीयूसीएससी के अध्यक्ष जतिंदर सिंह ने कहा कि “बुद्धि शुद्धि महायज्ञ” ने दैवीय मार्गदर्शन और मानव प्रयास के बीच सहजीवी संबंध की एक मार्मिक याद दिलाई है, जो सभी स्तरों पर नेताओं से विनम्रता, सहानुभूति और दूरदर्शिता के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करने का आग्रह करता है। जैसे-जैसे चंडीगढ़ आधुनिक शासन की जटिलताओं से जूझ रहा है, ऐसी पहल इसके भविष्य के पथ को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा ।

यादविंदर मेहता, सुरजीत ढिल्लों, दिलावर सिंह, जतिंदर सिंह, रवि पराशर, मंजूर खान, मनीष राय, हरमन जस्सर, प्रतीक बदवाल, कीरत सिंह, पलविंदर सिंह पल्लू और अंश उपाध्याय भी मौजूद थे।

dawn punjab
Author: dawn punjab

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS